Instant loan:—

क्या आपने कभी भी loan लिया है। आपको instant loan की आवश्कता पड़ी है। यदि आपने loan लिया होगा तो आपको पता होगा। Bank कुछ सीमित समय देती है। इसके बाद आपको उसके निर्धारित समय और ब्याज सहित राशि को बैंक में जमा करना होता है। और बैंक आपको एक निश्चित ब्याज दर पर आपको उधार देती है। और आपको जितना होता है पूरा ले जाकर जमा करते हैं। लेकीन आपको बैंक से ऋण लेने में काफी समय लग जाता है ऐसा नही है कि आप बैंक गए और बैंक ने आपके आधार कार्ड को देखा और तुम्हारे कुछ रख लिए और उधार दे दिया। बैंक आपके बैंक बैलेंस और आपके जमीन को देखने के बाद ही उधार देगा। लेकिन आपको आज के समय में playstore पर ढेर ऐसे app मिल जायेंगे जहां से आप कुछ मिनटों में लोन ले सकते है। और मिल भी जाता है जिनका ब्याज दर 10% से 200%तक हो सकता है। ये आपके आधार कार्ड की photo और आपका एक फोटो लेने के बाद आपको लोन दे देती है। हमको पैसों की जरूरत होती है और हम ध्यान देते नही और लोन ले लेते हैं। ऐसे में क्या होता है ये आपको 14 से 15 दिन का समय देते हैं। और इसके पहले ही आपको phone करके कहने लगेंगे की जमा करो। आपके जमा नहीं करने पर ये आपको धमकी देने लगेंगे। और इनका app ऐसा होता है कि ये आपके phone के कई अनावश्यक परमिशन को ले लेते है जिससे ये आपको परेशान करने लगते है।



Direct Bank loan:—

मैने आपको पहले ही शुरू में बता दिया था कि बैंक लोन देते कैसे है। बैंक आपके प्रोपर्टी के अनुसार , आपके नौकरी के अनुसार अथवा आपके business के अनुसार आपको लोन देती है ऐसा नही है कि आपके पास कुछ नहीं और आपको लोन दे दे। ऐसा बैंक कभी नही करती। यदि आपको बैंक से लोन लेना है तो आपको कुछ अपने प्रोपर्टी को दिखाना होगा इसके बाद ही आपको बैंक लोन देगी।


Instant loan Application:—

इसके जरिए आपको 2min में बैंक से लोन ले सकते है। इसके लिए आपको आधार कार्ड या pan card को मांगती है इसके बाद आपको ये लोन दे देंगी। आपको कोई प्रोपर्टी नही दिखाना है और ना कुछ और ये आपको लोन दे देंगे लोन लेते समय ये आपके phone के बहुत से सेटिंग का परमिशन ले लेते हैं और जिसकी आवश्यकता नहीं होता । इसके बाद भी ये आपका परमिशन ले लेते हैं। इन app में केवल कुछ ही दिनों तक का समय देते है कम से कम 14 से 15 दिनों तक इसके बाद आपको इनके पैसों को जमा करना होगा। यदि किसी भी कारण वश आप पैसा जमा करने में असमर्थ रहे है तो आपको ये phone करके परेशान करने लगेंगे। और आपको धमकी भी देने लगते है यदि तुमने पैसा को नही लौटाया तो तुम्हारे आधार कार्ड या pan card जो भी डैक्यूमेंट इनको दिए होंगे उनको ब्लॉक करवाने जैसी धमकी भी देने लगते है। कई बार ऐसा हुआ है ये आपके घर गुंडे भेज देंगे paisa वसूल करने के लिए एक बार एक व्यक्ति ने 60,000 रुपए किसी app के जरिए लोन ले लिया और उसने अपने समय पर अपना पैसा जमा नही कर पाया तो उसने एक गुंडे को उस व्यक्ति घर गुंडे भेज दिया उसने उसके मां को डराया धमकाया इसके बाद उसके घर से ज्वेलरी और 5,000 रुपए ले गया। ऐसा एक बार नही कई बार। ऐसा होता है। एक बार एक व्यक्ति ने अपने बीवी के phone से instant loan ले लिया और वह समय से नही दे पाया तो उस app वालो ने उसे फोन करके डराया धमकाया इसके बाद उसने उसके whatsapp group create करके उसके परिवार वालों के सामने उसे ब whatsapp हुत बुरा भला कहा इसके वह औरत आत्महत्या कर लेती है। कई बार instant loan लेना भारी पड़ सकता है।


Pandemi's impact:—

Covid19 से पहले india की micro finance industry बहुत अधिक boom कर रही थी। micro finance एक तरीका है जिसके पास पैसा नहीं है। जो किसी traditional bank सेLoAN नही ले सकते थे।


इस traditional micro finance की वजह से बहुत लोग गरीबी से बाहर निकल पाए हैं। Covid 19 की वजह से यह मॉडल टूट गया और बहुत से लोग नेशनल लग धान की वजह से बर्बाद हो गए किसी ने पैसा लेकर अपने बिजनेस खोला था कोविड की वजह से सब बर्बाद हो गया। इसलिए बैंक भी अब लोन देने से घबराने लगी इसके बाद इंस्टेंट लोन लेने वाले एप्लीकेशन आने लगे और लोग इसका इस्तेमाल करनाचालूकर दिया ये 2020 में playstore पर आने लगे जिनकी तादाद 200 से अधिक थी। और ऐसे ढेर सारी instant loan देने वाले यूपीआई application playstore पर लांच होने लगे जिनका मकसद था कि लोगों को लोन दे कर पैसा कमाने का था। अधिकतर लोगों के पास स्मार्टफोन था और जिससे लोग यूपीआई ट्रांजैक्शन जैसे एप्लीकेशन से जुड़े हुए थे इसलिए उनको लोन आसानी से मिल गया। यह एप्लीकेशन बनाने वाली क्रिएटर ने इन्हीं लोगों को टारगेट किया और अपने नए नए एप्लीकेशन लॉन्च करते गए हो लोगों को लोन देने लगे। लेकिन उनका मेन मकसद लोगों को बेवकूफ बनाकर पैसा कमाने का था और जो उसने किया भी।




Chinese involvement:—

यह बिजनेसमैन कैसे काम करते हैं इन सभी एप का स्ट्रक्चर क्या है इंडिया में इनके पास गुंडे कहां से आए एक बैंकिंग Industry एक्सपर्ट के अनुसार पता चलता है कि इस समस्या की core problem शुरू होती है India में छोटी फाइनेंस industries से जो बहुत जल्दी grow करना चाहती है। इन छोटी फाइनेंस इंडस्ट्री को टेक्निकल टर्म है NbFcs (non banking financial corporation) इन financial संस्था के पास कोई पूरा बैंकिंग लाइसेंस नही है। और यह बहुत छोटी चीजें करती हैं जैसे कि लोन देना है या investment कई chinese investor इन्ही लोगो को खोजते रहते है कई chinese investor इसको अफ्रीका और china में चला चुके हैं और पैसा भी कमा चुके हैं और वो अब india से कमाना चाहते है। और वो इन्ही Nbfc के जरिए इंडिया में पैसा कमाना चाहते है। इन सभी चाइनीस इन्वेस्टर के पास ए टेक्नोलॉजी भी और पैसा भी। और वो एक ऐसे पार्टनर की तलाश में रहते हैं और NBFCs उनके लिए बेस्ट पार्टनर होते है पैसे कमाने के लिए। इसी तरह chinese investor कई लोगो को खोजते हैं और लोन देते हैं और फिर उन पर दबाव बनाते हैं


 

Post a Comment

Previous Post Next Post