Blogger:-

जिनको ब्लॉगर के बारे में मालूम नहीं है मैं उनको एक लहजे में बताना चाहता हूं कि ब्लॉगर एक ऐसी वेबसाइट है जहां से आप जाकर अपना खुद का व्यवसाय क्रिएट कर सकते हैं वेबसाइट क्रिएट करना ही बहुत ही आसान है क्योंकि यहां पर आपको किसी भी कोडिंग की आवश्यकता नहीं होती है। आप बिना कोचिंग के अपना खुद का वेबसाइट क्रिएट कर सकते हैं ब्लॉगर के बारे में जितना कहा जाए इतना अच्छा है लेकिन आपको थोड़ी बहुत जानकारी होना बहुत आवश्यक है क्योंकि यदि आप नहीं जानते हैं तो आप यूट्यूब से वीडियो देखकर उसे पूरा कर सकते हैं धीरे-धीरे आपको सभी चीजें समझ में आने लगेगी और आप अपने काम को बड़े आसानी से कर सकते हैं।



 Blogging:-

नमस्कार दोस्तों! मैं आप सभी को blogging की सारी जानकारी हिन्दी में दूंगा। Blogging की शुरुआत कहा से और कैसे करें ये सभी भी ध्यान देना चाहिए। Blogging को शुरुआत कैस करे मैं आप सभी को समझाऊंगा। सबसे पहले मैं लोगो को ब्लॉगिंग क्या है इसका बताता हूं।

Blogging kya hai?:-

 blogging की शुरुआत से पहले ब्लॉगिंग क्या है। ब्लॉगर एक ऐसा स्थान है जहां से अपने पोस्ट को लिख कर आप लोगो को कुछ बताए उसे हम ब्लॉगिंग कहते है। (अपने ज्ञान , विचार और लोगो को सवालों के जवाब को अपने पोस्ट के समझना ब्लॉगिंग कहलाता है।) 


Blog kya hai?:—

 जिस माध्यम से आप अपने विचारो का आदान प्रदान कर रहे है वही ब्लॉग है। 

Blogging की शुरुआत करने के लिए पहले क्या करे step द्वारा बताऊंगा। 

1. Site create:—

Blogging को शुरू करने के लिए आपको पहले अपने साइट को बनाना होगा इसके लिए पहले ब्लॉगर पर जाकर अपने साइट को बना सकते है यहां पर आपको free में अपनी साइट को blogspot domain के साथ बना सकते है। इसके बाद आपकी website बनकर तैयार हो जायेगी। 

2. Domain buy:—

साइट को बनाने के बाद यदि आप blogspot वाले domain को हटाना चाहते हैं तो बहुत से website है जैसे कि GoDaddy जहा से जाकर अपने साइट के लिए domain buy कर सकते हो। यदि आप अपने साइट पर blogspot domain रहने देते है तो बहुत ही अवसर होते है कि आपको एडसेंस से अप्रूवल मिले बहुत ही कम लोग ही ले पाते है इसलिए आप कोई सा भी डोमेन buy कर सकते हो। 

3. Design:— 

यदि दोनो नियमों का पालन किया हुआ है तो इसके बाद आपको अपने साइट को कॉस्टमाइज करना होगा इसके लिए आपको theme की आवश्यकता होगी जो कि तुम उसे free में download कर सकते हो और उसे खरीद भी सके हो। उसके बाद उसके XML file को अपलोड करना है इसके बाद उसको व्यवस्थित करना होगा उसम आपको mega menu बनाना होगा और अंत में about, contact, privacy policy और डिस्क्लेमर को बनाना होगा। और उसको पूरी तरह से कॉस्टमाइज़ करना होगा।

4. Post:—

इसके बाद आपको पोस्ट लिखना शुरू करना होगा यदि आप लोग आर्टिकल को लिख रहे है तो आपको 1 आर्टिकल को लगभग 800+ शब्दों का लिखना होगा और अनिवार्य भी अपने पोस्ट को लिखते समय ध्यान दे की जो लिख रहे है। पोस्ट लिखते समय headline और point का भी प्रयोग करना है ऐसा नही करना है कि एक heading पर पूरा आर्टिकल लिख दिया हो। 

5. Account create :—

यदि इन सभी का पालन किया है तो इसके बाद आपको गूगल एनाल्टिक्स पर जाकर एनाल्टिक्स के लिए अकाउंट बनाए इससे आपको पता चलेगा कि आपके site पर कितने visitor आते है। कितना organic और inorganic इसको भी पता कर सकते है। इसके बाद आपको Google search console में अपने साइट को submit करे यह साइट में लिखे आर्टिकल को rank करने और कराने पर बहुत ही उपयोगी होता है। इसलिए गूगल सर्च कंसोल में अपने साइट को जरूर सबमिट करें। और अंत में आप google adsense पर अपना अकाउंट क्रिएट करें और 30 से अधिक पोस्ट होने पर अप्रूवल के लिए भेजे। 

6. Thumbnail use:—

जब आप एक पोस्ट को लिख लेते हैं तो आर्टिकल में क्या लिखा हुआ है उसके लिए एक थंबनेल की अवश्यकता होती है। जिसमे आप अपने आर्टिकल का टाइटल से समंधित thumbnail बनाए हुए है। यदि आप thumbnail में कोई फोटो का प्रयोग कर रहे है तो उसको बहुत ही छोटे प्रोफाइल साइज की होनी चाहिए जिससे आपकी साइट को लोड लेने में कम समय लगे। 

7. Traffic:—

यदि आप अपने आर्टिकल लिख लिया है और आप सोच रहे है कि हमारा लिखा हुआ आर्टिकल रैंक नही हो रहा है और ना ही कोई उस पर ट्रैफिक नही आ रही है इसके लिए आपको अपने पोस्ट को समय समय पर update करना चाहिए जिससे आर्टिकल रैंक होती रहती है। यदि आप ने कई बार अपडेट किया है तब भी आपके साइट पर कोई ट्रैफिक नही आ रही तो अपने कम सर्च मे आने वाली आर्टिकल को लिखा है इसलिए लिखने से पहले उसकी जांच कर ले। 


Blog kya hai:-

Blog पर अपना पोस्ट लिख सकते हैं ब्लॉग में पोस्ट में क्या लिखना होता है आपको कोई आईडिया नहीं है तो मैं आप सभी को बता देता हूं कि ब्लॉक में आप सर्च किए गए क्वेश्चन का आंसर लिख सकते हैं। जैसे कि आपने ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए सच ही है तो यह आ गया ऐसे ही आप भी किसी भी टॉपिक पर अपने मत को रख सकते है। ब्लॉग पर यदि आप अपने पेज को नहीं बनाए हैं तो बना लीजिए क्योंकि इससे पता चलेगा कि आप कौन हैं कहां से हैं इन सभी चीजों के बारे मैं थोड़ी बहुत जानकारी दे देनी चाहिए। 




ब्लॉग क्रिएट करने के बाद क्या करे:-

ब्लॉक को क्रिएट करने के बाद सबसे पहले आप अपने वेबसाइट के लिए एक theme की आवश्यकता होगी। आप उसे गूगल से जाकर सर्च मार कर डाउनलोड कर सकते हैं इसके बाद उसे एक्स मॉल में कन्वर्ट करके अपने वेबसाइट पर अपलोड कर अपनी वेबसाइट की सुंदरता को बढ़ा सकते हैं और आपको अपने ब्लॉग पर थीम लगाना ही बहुत ही जरूरी है। यदि आपने थीम को लगाकर उसे तैयार कर दिया है तो आपको अब अपने पेज को बनाना है पेज में आप अपने बारे में अबाउट्स और वेबसाइट के लिए कांटेक्ट डिस्क्लेमर प्राइवेसी पॉलिसी बना सकते हैं इन सभी को आप गूगल में सर्च मार के जनरेट कर सकते हैं और पोस्ट लिखकर अप्रूवल लेकर आप पैसा आसानी से कमा सकते हैं।




Website:- 

ब्लॉगर पर अपना अकाउंट क्रिएट कर लिया है तो आप सोच रहे हैं कि इसके बाद हम क्या करें। कुछ तो आज मैं यहां सभी को बताऊंगा कि इसके बाद आपको क्या करना है। इसके बाद आपको अपने website में theme को लगाना होगा। और आपको अपने upload किए गए थीम का थीम का कस्टमाइज कर ले आप अपने मेगामेन्यू और फूटरमैन को एडिट कर ले।




Site Kaise create kare:- 

साइड create करने के लिए आपको ब्लॉगर पर जाना है और वहां से अपना ईमेल डालकर साइन इन करने के बाद आप वहां पर अपना एक वेबसाइट बड़े आसानी से क्रिएट कर सकते हैं। Website create करने के लिए को अपनी कंपनी का नेम फिर अपने वेबसाइट का नाम क्या रखना चाहते हैं उसके बाद ब्लॉग स्पॉट के साथ आप अपनी वेबसाइट को खुद ही क्रिएट कर सकते हैं यदि आप चाहते हैं कि हमारी वेबसाइट में केवल डॉट कॉम ही रहे तो आपको उस डोमेन को परचेज करना होगा




उसके बाद आपको आपकी वेबसाइट मिल जाएगी और उस पर आप आपने आर्टिकल को हम लिख सकते हैं।




Website create karne ke bad kya kare:-

Website create करने के पहले एक theme को लगाना चाहिए। Theme लगाने से वेबसाइट की सुंदरता बढ़ जाती है। इसके बाद आपको आपको अपनी वेबसाइट के लिए पेज क्रिएट करना होगा पेश किए जाने के बाद आप अपने पोस्ट को लिखना प्रारंभ कर सकते हैं। या artical से लिखने के बाद पेज बनाएं। इसके बाद ही आप अपने वेबसाइट को अप्रूवल लेने के लिए गूगल ऐडसेंस के पास भेजें।




Search discription:-

यदि आप ने पूरा आर्टिकल और फोटो को लगा कर कंप्लीट कर लिया है तो आपको इसके बाद लिखे गए आर्टिकल पर एक लेवल को लगाकर उसमें नीचे दिए गए सर्च डिस्क्रिप्शन पर अपने आर्टिकल से संबंधित लिखकर अपने पोस्ट को पब्लिश करते हैं। यदि आपने अच्छे से अपने artical को लिख दिया है तो आपके आर्टकट रैंक होने के चांसेस बढ़ जाते है।




Free me apna website Kaise bnaye:-

नमस्कार दोस्तों! मै आप सभी लोगो को बताने वाला हूं कि अपना खुद का website कैसे create करे बहुत लोगसे लोग है जो इसके बारे में कुछ नहीं जानते है। लेकिन इसके बारे में सबको मालुम होना चाहिए क्योंकि यदि आप इसके बारे में पता होगा। तभी आप ऑनलाइन पैसा वेबसाइट से कमा सकते हैं यह सभी को मालूम होना चाहिए कि ऑनलाइन पैसा कैसे कमाया जाता है आज के बहुत से ऐसे लोग हैं जो इन सभी चीजों से बहुत ही अनभिज्ञ है। और मैं आज आप सभी को बताऊंगा कि अपनी वेबसाइट को कैसे क्रिएट करना है और क्या करने के बाद हमें पैसा मिलेगा इन सभी बातों को यहां पर पॉइंट वाइज मैं आप सभी को बता दूंगा और इस को फॉलो करते हुए आप घर पर बैठे पैसा कमा सकते हैं कोई किसी को पैसा कमाने के बारे में नहीं बताता कोई भी विद्यार्थी और खाली बैठे व्यक्ति को इसके बारे में मालूम होना चाहिए क्योंकि यह आपको आपकी योग्यता के अनुसार आपकी भाषा शैली के अनुसार और आपके एक्सपीरियंस के आधार पर निर्भर karta hai




Search console:-

यदि आप अपने वेबसाइट को बना लिया है तो अब आपको अपने website को search में आने के लिए आपको search console में submit करना होगा। आपको अपने साइट का लिंक ले जाकर search console में submit करना होगा। इसके बाद साइटमैप को भी सबमिट करना होगा इसके लिए आपको अपने sitmap.xml को लिखा कर सबमिट कर दे।




पोस्ट कैसे लिखे:-

सब कुछ करने के बाद एक सवाल दिमाग में बार बार आता है कि पोस्ट कैसे लिखे क्या मै अपनसभी को बातुंगा कि आर्टिकल लिखने का ideas वहां से आपको मिलता रहेगा वह question hub एक ऐसे साइट है जो आप सभी लोग artical लिखने का ideas देगा। और अपने आर्टिकल में हैडलाइन जरूर बनाए।


Blog par article kaise likhe:-

 ब्लॉग पर आर्टिकल लिखने से पहले आपको पहले अपना एक खुद का एक वेबसाइट को क्रिएट करना होगा यदि आपने वेबसाइट को कैसे भी करके क्रिएट कर लिया है तो आप नहीं जानते हैं कि आर्टिकल को कैसे लिखा जाता है और आर्टिकल को कैसे अच्छा बनाया जाता है। आर्टिकल को लिखने के लिए सभी विशेष का ध्यान देना बहुत ही आवश्यक होता है क्योंकि यदि आप कैसे भी करके कोई आज कर लिख देते हैं तो वह रैंक होने में बहुत समय लेता है और आर्टिकल नहीं मिलेगा इसलिए ध्यान रहे कि आर्टिकल लिखते वक्त बताए गए सभी नियमों का पालन करेंगे तो आपकी आर्टिकल रैंक होने के चांसेस बढ़ जाते है।




Headline:-

आर्टिकल लिखते समय सबसे पहले आपको अपनी टाइटल को लिखना होगा अपने टाइटल को मध्य नजर देते हुए आपको अपने आर्टिकल का headline बनाना होगा। सबसे जरूरी हेड लइन बनाना हो जाता है क्योंकि यदि आप बिना हेड लाइन के कोई आर्टिकल लिख दे रहे हैं तो उसका कोई मतलब नहीं निकलेगा और उसे पूर्ण नहीं माना जाएगा। सबसे पहले मेन हेडलाइंस उसके बाद अपने पैराग्राफ को लिखेंगे ऐसे ऐसे करके सभी छोटी-बड़ी हैडलाइन को बनाना चाहिए।




Photo :-

यदि आपने अपनी 8 को ही को पूर्ण कर लिया है तो आपको एक फोटो उसी साइज के आधार पर लगाना आवश्यक बन जाता है यदि आप उस पर एक फोटो लगा देते हैं तो उसका बेवफा मैन बन जाता है और वह देखने में अच्छे लगने लगता है। यदि आप अपने फोटो को लगा रहे हैं तो उस छवि को पहले किसी भी साइट से कंप्रेस करके ही लगाएं इससे आर्टिकल लोड होने में कम समय लेगा।


Article me Kitna photo lagaye:—

 क्या आप भी परेशान रहते हैं कि अपने ब्लॉगर अथवा वर्डप्रेस में कितने फोटो का इस्तेमाल करें तो आज मैं आप सभी को बता देता हूं कि अपने ब्लॉग के आर्टिकल में कितनी फोटो का इस्तेमाल करना चाहिए यदि आप कोई टेक्निकल वेबसाइट को क्रिएट किए हुए हैं तो आप कोशिश करेगी अपने आर्टिकल में कम से कम एक फोटो और अधिकतम से 5 फोटो का इस्तेमाल करना चाहिए इससे अधिक करने पर आर्टिकल बैंक में रैंक में दुविधा होती है इसलिए फोटो को उतना ही लगाए जाए जितना आवश्यक हो यदि आपने 200 वर्ड का आर्टिकल लिखा हुआ है तो उसमें कम से कम एक ही फोटो लगाएं इससे अधिक नहीं इसके अनुसार जैसे बड़े आर्टिकल लिखे जाते हैं तो आप उसमें दो से तीन फोटो को लगा सकते हैं। 






Article me किस size का फोटो ले:—

यदि आप अपने आर्टिकल में किसी भी साइज की फोटो को डाल दे रहे हैं तो यह ठीक नहीं होता आप कोशिश करें कि अपने आर्टिकल में समान साइज की फोटो डालें जिससे होम स्क्रीन पर आपकी साइट अच्छी दिखे और लोग उसे देख कर क्लिक करके देख सकें इससे आपका ही फायदा होता है और सामने वाले व्यक्ति को पता चलता है कि इसके अंदर किस टॉपिक पर बातें की गई हैं यदि आपने छोटी साइज की फोटो को डाले हुए हैं तो होम स्क्रीन पर उसे जूम करके दिखाता है इसलिए किसी को कुछ मालूम नहीं चलता किस टॉपिक पर आर्टिकल लिखा हुआ है इसलिए इन सभी छोटी सी बातें को ध्यान में रखकर ही अपने थम्बनेल को बनाएं। 


Article photo ki quality:—

यदि हम ब्लॉगर पर नए हैं तुम हो सकता है आपको मालूम ना हो कि इस पर किस साइज की फोटो को अपलोड किया जाता है यदि आप अपने आर्टिकल में किसी भी फोटो को अपलोड कर देते हैं तो ठीक नहीं है और कोई भी 1MB 2 एमबी साइज की फोटो को ना डाले इससे कई घाटे होते हैं जैसे कि आपके पोस्ट में यह बहुत ही देर में लोड होंगे और आपकी साइट को डाउन कर देंगे जिससे आपकी साइड ओपन होने में बहुत अधिक समय लेगी इसलिए कभी भी फोटो को अपलोड करें तो उसकी साइज 10 से 50 kb तक ही हो। इससे आपकी साइट बहुत ही हल्की होती है और ओपन होने में अधिक समय नहीं लेता और रैंकिंग में भी सहायक होती है।








 

Post a Comment

Previous Post Next Post